Monday, March 13, 2017

Dilip Kumar (victim of Cancer Maxilla) turbo starts his healing ...


How Dilip Kumar heals his cancer?


      दोस्तों, दिलीप कुमार कोटा स्टेशन की रेल्वे कोलोनी में रहते हैं। इनके एक साल का बेटा है। पिता रेल्वे से रिटायर्ड हैं। इन्हें जनवरी 2017 में दाएं जबड़े में कैंसर हुआ। डॉक्टर्स ने सर्जरी करने की बात कही, पर साथ ही यह भी कहा कि रिस्क बहुत ज्यादा है कुछ भी हो सकता है। पूरा परिवार डरा और सहमा हुआ था। तभी दिलीप कुमार के भांजे ने गूगल पर बडविग प्रोटोकोल और मेरे बारे में पढ़ा और परिवार को बताया। काफी सोच समझकर इन्होंने निर्णय लिया कि अंग्रेजी इलाज नहीं लेगे और बडविग उपचार ही करेंगे और 11 फरवरी को दिलिप और उनके पिता धनराज मेरे पास आए। मैंने इन्हें सांत्वना दी और बडविग प्रोटोकोल पूरी तरह सिखाया और उपचार सामग्री दी। घाव से पस बहुत निकल रहाथा। मैंने घाव पर दिन में कई बार टिंचर आयोडीन लगाने की सलाह दी। 5-7 दिन में ही पस आना बंद हो गया। आज 10 मार्च को एक महीने बाद चेहरे की सूजन और दर्द ठीक हो चुका है। दिलीप का एनर्जी लेवल बहुत अच्छा है। आप वीडियो देख कर सब समझ जाएंगे। हमेशा की तरह आज भी बडविग प्रोटोकोल चमत्कार कर गया...
Dr. O.P.Verma
Budwig Wellness
7-B-43, Mahaveer Nagar III, Kota Raj.
http://flaxindia.blogspot.in
Email- dropvermaji@gmail.com
+919460816360

No comments: